फटाफट TOP 10: आज की 10 बड़ी खबरें
जब एक फोटो ने कारण मायावती ने काट दिया टिकट
क्या हुआ जब मज़दूर को दुत्कार कर भगाया इंस्पेक्टर ने : रियल लाइफ का सिंघम
नहीं है छत, नहीं है दीवारें, बस खून-पसीने की मेहनत और खड़ा किया देश का सबसे अनूठा स्कूल
जब IAS अधिकारी का पद छोड़ अध्यापक बन गया 24 साल का युवक
इस गाँव में होती है अफसरों की फसल :
नए साल की धमाकेदार शुरुआत, हुआ पहला घोटाला :जानिये कौन है ये नया लुटेरा
बदलने लगी है भारतीय रेलवे की तस्वीर : ऐसे होंगे नए कोच
इसलिए सेक्स से डरती हैं लडकियां
क्या किसी देश की राष्ट्रपति इतनी हॉट हो सकती है?
पठानकोट हमले का खुलासा किसने लगाई सुरक्षा में सेंध ?
और फिर हम कहते हैं कि सरकार काम नहीं कर रही : क्या इस तरह आएंगे अच्छे दिन?
जब ऑड ईवन फार्मूले पर निकला एक दिल्ली वाले का दर्द : जानिये क्या क्या कहा
पैन कार्ड नहीं है तो हो जाएँ आज से सावधान
हैवानियत का चरम : क्या हुआ ISIS के चंगुल से भागी इन दो लड़कियों के साथ
नीच ISIS का एक और कुकृत्य हुआ उजागर: दासियों से बलात्कार के भी बनाये नियम
न्यू ईयर पार्टी में जाने से पहले जरूर रखें इन बातों का ख्याल
साल 2015: क्या क्या हुआ दुनिया भर में: Special Report News75
इस फिल्म में सनी लीओन ने दिखाया अपना फुल पोर्न रूप , दिए जमकर न्यूड सीन
साल भर में जनता को क्या दिया मोदी ने - डिजिटल लॉकर से स्मार्ट सिटी तक, News75 Special, साल 2015
नीच ISIS का एक और कुकृत्य हुआ उजागर: दासियों से बलात्कार के भी बनाये नियम

छिपकर निर्दोषों की हत्या करने के लिए कुख्यात कायर आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (IS) की नीचता का एक और सच सामने आया है | ISIS के नीति नियामकों ने अपने सैनिकों को एक फतवा जारी कर बताया है कि ,जिन महिलाओं को चरमपंथी गुटों ने दास बनाया है उनके मालिक उनसे जबरन यौन सम्बन्ध बना सकते हैं। IS ने इस फतवे में अपनी सेक्स विधि की हर बात को व्याख्या से लिखा है। यह फतवा उन्‍हीं दस्‍तावेजों में मिला है, जो इस साल मई में सीरिया स्थित ISIS ठिकाने पर छापेमारी के दौरान अमेरिकी सेना ने बरामद किए थे।

इस्‍लामिक स्‍टेट के नीति नियामकों ने इस फतवे में जो भी बातें कहीं हैं, वे ISIS के उस नाकब को उतार कर फेंक देती हैं जिसमें वह खुद को आदर्श इस्लामिक संगठन घोषित करता है । इस फतवे से साफ हो गया है कि ISIS दासियों के साथ सदियों पुराने होने वाले सेक्स व्यवहार की फिर से व्याख्या कर रहा है।गौरतलब है कि संयुक्‍त राष्‍ट्र और ह्यूमन राइट्स वॉच ने अपनी रिपोर्ट में ISIS पर हजारों लड़कियों को सेक्‍स स्‍लेव बनाने का आरोप लगाया है।

क्या कहा गया है फतवे में :

इस फतवे की शुरुआत एक सवाल से होती है- ‘हमारे कुछ साथियों ने सेक्‍स स्‍लेव के साथ बर्ताव करते हुए कुछ नियमों का उल्‍लंघन किया है। शरिया कानून में इस प्रकार के उल्‍लंघन की इजाजत नहीं दी गई है। ऐसा इसलिए हो रहा है, क्‍योंकि सदियों से इस कानून पर बात नहीं की गई। क्‍या इस संबंध में कोई चेतावनी जारी की गई है?’

इसके बाद इस्लामिक स्टेट के नीति नियामकों द्वारा जारी इस फतवे में कहा गया है कि जिन गुटों ने महिलाओं को अगवा किया है उनके मालिक उनसे सेक्स कर सकते हैं। इसके बाद इस फतवे में सेक्स संबंधों की संहिता बनाई गयी है जिसमें पिता और बेटे को एक ही महिला के साथ सेक्स करने की मनाही है लेकिन एक पुरुष महिला और उसकी बेटी के साथ सेक्स कर सकता है। फतवे में लिखे एक और नीच नियम में कैद महिलाओं के संयुक्त मालिकों को भी सेक्स करने की छूट दी गयी है। यहां ऐसा माना गया है कि उस महिला पर संयुक्त स्वामित्व है। मालूम हो कि ISIS के चंगुल में 12 साल तक की उम्र की लड़कियां भी शामिल हैं, जिन्हें जबरन दासी बनाया जा रहा है । ISIS उत्‍तरी इराक की यजीदी महिलाओं पर काफी जुल्‍म ढाए हैं।

फतवे में आगे लिखा गया है, ‘अगर कोई सेक्‍स स्‍लेव है, जिसकी बेटी भी सेक्‍स करने लायक है। अगर बाद में गुट मालिक उसकी बेटी से रिश्‍ता कायम करता है तो फिर उस स्त्री से वह कोई और संबंध नहीं बनाएगा।’ फतवे इस प्रकार के कई और कुनियम बनाये गए हैं ; ISIS समय समय पर अपनी नीचता बयां करता रहा है, मगर इस बार उजागर हुए इस फतवे से यह भी साफ़ हो गया कि वह ऐसे नीच कृत्यों की भी पूर्ण योजनाएं बनाता है

सूत्रों से पता चला है कि अमेरिकी सेना के हाथ लगे दस्‍तावेजों में फतवा नंबर-64 में ISIS आतंकी सेक्‍स स्‍लेव के बीच रिश्‍तों के बारे में बताया गया है। इसे ISIS द्वारा 29 जनवरी 2015 को अपने कार्यकर्ताओं के मध्य जारी किया गया था।

हैवानियत का चरम : क्या हुआ ISIS के चंगुल से भागी इन दो लड़कियों के साथ

भारत की 15 सबसे हसीन अभिनेत्रियां

प्रतिक्रिया दीजिए