दुनिया के समक्ष सबसे बड़ी चिंता है जलवायु परिवर्तन और आतंकवाद: मोदी
मुरली विजय केवल 8 रन बनाकर आउट
प्रधानमंत्री मोदी ने दिया, आओ नया विश्व बनाएं’ का नारा
सुषमा स्‍वराज ने कहा- रामायण और बौद्ध धर्म, भारत और आसियान को जोड़ते हैं
पेट्रोल की चोरी के लिए शातिर चोरों ने बनाई 150 फुट लंबी सुरंग, धमाके के बाद हुआ खुलासा
जब भाभा ने की थी महज 18 माह में परमाणु बम बनाने की घोषणा, डर गया था US
बिग बॉस 11 की विनर सालों पहले दिखती थीं कुछ ऐसी, तस्वीरें हुई वायरल
मौका मौका : ALIMCO में नौकरी का सुनहरा मौका
जब्त होगी हाफिज़ सईद की संपत्ति, कोर्ट पहुंचा आतंकी सईद
SC विवाद : माकपा करेगी CJI के खिलाफ महाभियोग चलाने की कोशिश
तेजस्वी ने लालू को बताया जनता का हीरो
एप्पल के iPhone X पर मिल रहा है सबसे बड़ा डिस्काउंट, लेकिन….
IND vs SA: टीम इंडिया ने जीता टॉस, लिया बैटिंग का फैसला
यूपी: बदमाशो को योगी सरकार से डर नहीं, पूर्व डीजीपी की बहन से लूटपाट
 गणतंत्र दिवस परेड: इस बार आसियान देशों के प्रमुख होंगे विशिष्ट अतिथि
छलका विश्वास का दर्द, कहा- मैं और शिवपाल अपनी-अपनी पार्टी के `आडवाणी`
सालों से लापता 27 हिस्ट्रीशीटर्स के बारे में पुलिस बेखबर
फेसबुक की डायरेक्टर कैथी चिप्स में होगी शामिल
आधार से मिला बिछड़ा हुआ बेटा
सेहरा सजाने का ख्वाब, अर्थी सजाने में बदल गया
इनकी आवाज़ों से चलती है दिल्ली मेट्रो

"अगला स्टेशन है राजीव चौक , दरवाज़े बायीं तरफ खुलेंगे , कृपया दरवाज़ों से हटकर खड़े हों "। दिल्ली वाले इस आवाज़ से भली भांति परिचित होंगे दिल्ली वालों के अलावा दिल्ली मेट्रो से सफर कर चुके लोगों ने भी ये आवाज़ें खूब सुनी होंगी । हर रोज़ मेट्रो द्वारा अपने अपने सफर पर निकलने वाले लोग इन्हीं आवाज़ों द्वारा मेट्रो में स्टेशनों की जानकारी पाते हैं, इतना ही नहीं मेट्रो में निरंतर होने वाली घोषणाओं को लोग रट भी लेते हैं । मगर क्या कभी आपने सोचा है कि ‘दिल्ली की लाइफ़ लाइन’ कही जाने वाली दिल्ली मेट्रो में जान डालने वाली इन आवाज़ों के पीछे कौन हैं? नहीं न? तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि मेट्रो स्पीकर से आने वाली इन बेहतरीन आवाज़ों के पीछे कौन से शख्सियत हैं :

शम्मी नारंग :

दिल्ली मेट्रों में होने वाले हिंदी अनाउंसमेंट में जो पुरुष आवाज़ आपको निरंतर सुनाई देती है, वो आवाज़ है शम्मी नारंग की :

शम्मी नारंग आईआईटी दिल्ली से पोस्ट ग्रेजुएट हैं , वे एनाउंसर बनने के लिए IIT नहीं गए थे, मगर वहां कुछ ऐसा हुआ कि उनके करियर की दिशा ही बदल गई बताते हैं कि जब नारंग 19 वर्ष के थे तब IIT कैंपस में टहलते टहलते उनकी मुलाक़ात एक विदेशी इंजीनियर से हो गई । हुआ यूं कि उन्हें उस इंजीनियर ने माइक्रोफ़ोन के ध्वनि परीक्षण के लिए बुलाया और नारंग से कहा कि आप इस माइक्रोफ़ोन में कुछ भी कहें। जब नारंग ने अपनी आवाज़ से माइक्रोफ़ोन पर कुछ शब्द कहे, तो वह इंजीनियर उनकी चमत्कारिक आवाज़ को सुनकर हैरान रह गया, उसने पाया कि ये आवाज़ बाकी लोगों से ज्यादा प्रभावशाली है , जिसके बाद उस इंजीनियर ने शम्मी नारंग को `Voice of America` के हिन्दी विभाग में शामिल किया । दरअसल वह संयुक्त राज्य अमेरिका के सूचना सेवा (यूएसआईएस) में तकनीकी निर्देशक था।

इसके बाद शम्मी नारंग दूरदर्शन से जुड़ गए और दूरदर्शन के जाने माने एंकर रहे, शम्मी नारंग की आवाज़ का प्रभाव इस बात से पता चलता है कि , उन्हें दूरदर्शन ने 10,000 लोगों के बीच से न्यूज़ रीडर के लिए चुना था ।

रिनी साइमन खन्ना :

डेल्ही मेट्रो के अंग्रेजी अनाउंसमेंट में जो महिला आवाज़ आप सुनते हैं, वह आवाज़ है पूर्व दूरदर्शन एंकर रिनी साइमन खन्ना की :

रिनी का करियर दूरदर्शन के प्रतिष्ठित एंकर के रूप में रहा , इनका जन्म केरल प्रदेश में हुआ था मगर चूंकि इनके पिता भारतीय वायु सेना के एक अधिकारी थे, इसलिए रिनी को देश के 9 अलग-अलग स्कूलों में पढ़ाई करनी पड़ी।

अंग्रेजी भाषा पर बेहतरीन पकड़ होने के कारण इन्होंने 1985-2001 तक दूरदर्शन में न्यूज़ एंकर के रूप में काम किया इसके बाद वे एक Voice Over Artist और एक एंकर के रूप में अभी तक सक्रिय हैं। उम्मीद यही अब दिल्ली मेट्रो में अनाउंसमेंट सुनते समय आप इन चेहरों को नहीं भूलेंगे।

प्रतिक्रिया दीजिए