गुजरात चुनाव के पहले चरण में लोगों ने कांग्रेस के लिए भारी मतदान किया : लालू
मीटिंग विवाद पर मनमोहन के तेवर गरम, कहा- ओछी राजनीति के तहत आधारहीन मुद्दे को मोदी ने दिया तूल
ओवैसी ने दागा बड़ा सवाल, कांग्रेसियों ने किया देशद्रोह तो एनआईए की जांच बैठाएं पीएम मोदी
हिमाचल प्रदेश में कई जगह हुई बर्फबारी, दिल्ली में भी बिगड़ा मौसम
हाथी के साथ सेल्फी लेना भारी पड़ा युवक को, गंवानी पड़ी जान
हाजीपुर में जेल कक्षपाल की गोली मारकर हत्या
सोने की तस्करी में हवाई अड्डा सफाईकर्मी समेत दो गिरफ्तार
गुरमीत राम रहीम के वकील ने विशेष सीबीआई अदालत में 30 लाख रुपये का जुर्माना जमा किया
पुलिस का मुखबिर समझ कर माओवादियों ने आदिवासी व्यक्ति की हत्या की
झारखंड में जेएमएम ने आयोजित की चुंबन प्रतियोगिता, बीजेपी ने कहा - परंपरा का बनाया मजाक
राहुल के कांग्रेस अध्यक्ष बनने पर पीएम मोदी का तंज, सोने का चम्मच लेकर पैदा होने क्या जाने गरीबी क्या है ?
केंद्रीय मंत्री का पाकिस्तान को जवाब, हमें लोकतंत्र की शिक्षा न दें
प्रदीप सिंह खरोला बने एयर इंडिया के नए सीएमडी, संभाला पदभार
एयर इंडिया के निजीकरण पर संसदीय समिति में मतभेद, BJP सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने जताई आपत्ति
आम आदमी पार्टी ने पूछा, मैक्स अस्पताल से बीजेपी का क्या रिश्ता है
अनुष्का और विराट बंधे शादी के बंधन में
मित्रों की जेब भरने काे बेकरार मौन साहब: राहुल
गुजरात चुनाव : बड़ी संख्या में नए मतदाता, पर जीत की चाभी जिम्मेदारों के पास
नितिन गडकरी ने जताई जल स्रोतों के सटीक संरक्षण की आवश्यकता
दिल्ली में एम्स से आश्रम तक बनेगा रोड,15 करोड़ रुपये मंजूर
जब एक फोटो ने कारण मायावती ने काट दिया टिकट

कभी कभी एक फोटो आपकी जिंदगी बदल सकती है और जिंदगी न सही करियर तो बदल ही सकती है। कई लोगों के लिए राजनीति भी ऐसी ही चीज़ है जो जिंदगी और करियर दोनों को निर्धारित करती है। मगर क्या हो जब आपकी सारी राजनैतिक महत्वाकांक्षाएं एक फोटो के कारण धरी रह जाएँ ? जी हाँ ऐसा ही ही हुआ अलीगढ़ की संगीता चौधरी के साथ। बताया जा रहा है कि संगीता चौधरी द्वारा की गयी एक फेसबुक फोटो पोस्ट से नाराज होकर बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने अलीगढ़ जिले की अतरौली सीट से 2017 विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी की घोषित उम्मीदवार संगीता चौधरी का टिकट काट दिया।

क्या था पूरा मामला?

बताते हैं कि संगीता चौधरी अपनी राजनैतिक संभावनाओं की प्रतिभूति के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती से मिलने गयी थीं , मुलाक़ात के दौरान उन्होंने एक फोटो खिंचवाई जिसमें वे मायावती के दोनों पैर पकड़े हुए हैं और मायावती ने उनके सिर पर हाथ रखा हुआ है।

अपने ऊपर मायावती के हाथ वाला फोटो उत्साह में आकर उन्होंने फेसबुक पर पोस्ट कर दिया ताकि उनके विरोधी जान जाएँ कि उन पर मायावती का हाथ है ।मगर ये दांव उलटा ही पड़ गया । इस फोटो को लेकर मायवती की खूब आलोचना होने लगी , जिससे कठिर तौर पर मायावती भड़क गयीं और संगीता चौधरी का टिकेट कैंसिल कर दिया ।

पार्टी नेतृत्व का क्या कहना है :

फोटो विवाद को बढ़ता देख पार्टी नेतृत्व ने संगीता चौधरी का टिकट कैंसिल करते हुए यह संदेश देने की कोशिश की है कि बसपा में पैर छूने वाला कल्चर नहीं हैं, वहीं संगीता चौधरी का कहना है कि मैने यह तस्वीर फेसबुक पर महज अपने विरोधियों को यह जताने के लिए अपलोड की थी कि बहनजी का हाथ मेरे ऊपर है। लेकिन पार्टी कोआर्डिनेटर द्वारा मुझे बुलाकर जब यह कहा गया कि बहनजी मेरे द्वारा फेसबुक पर साझा की गई तस्वीर को लेकर नाराज हैं और वे माफ़ी मांगने को भी तैयार हैं।

बहुत पुराना है पैर छूने का कल्चर:

भले ही संगीता कुछ भी कहें या पार्टी कोई भी सफाई दे, बसपा सुप्रीमो के चरण पखारने वाला कल्चर काफी पुराना है, बसपा का हर छोटा बड़ा नेता बहन जी के पैर छूने को अपनी उपलब्धि मानता है । क्या नेता क्या अधिकारी ये पैर छूने का कल्चर यदा कड़ा सामने आता ही रहता है

पहले भी कई बार विवादों में रह चुकीं हैं मायावती :

सिर्फ पैर छूना ही नहीं, मायावती इसी प्रकार के अन्य विवादों में अक्सर रहती हैं , उनकी सरकार के दौरान एक समारोह में उनपर नोटों की भारी माला पहनाने को लेकर विवाद हुआ था।

इतना ही नहीं मायावती को लेकर विकिलीक्स ने ये ख़ुलासा किया था कि मायावती के सिर्फ एक जोड़ी जूते लाने के लिए उनका प्राइवेट जेट मुंबई तक गया।

प्रतिक्रिया दीजिए