मंगोलपुरी : मछली मार्केट में छापेमारी के दौरान मिली जहरीली मछलियां, 25 टन मांगुर को किया गया दफन
जल्लीकट्टू पर हिंसक प्रदर्शन के दौरान पुलिस बर्बरता से जुड़ा वीडियो आया सामने
जम्मू-कश्मीर: हदूरा गांव में सुरक्षाबलों और आंतकवादियों के बीच गोलीबारी जारी
प्रियंका गांधी साल 2019 में रायबरेली से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगी?
डोनाल्ड ट्रंप आज रात 11 बजे पीएम मोदी से करेंगे टेलीफोन पर बात
तस्लीमा नसरीन ने यूनिफॉर्म सिविल कोड की वकालत की
तमिलनाडु में हिंसक प्रदर्शन के बीच विधानसभा में पास हुआ जल्लीकट्टू बिल
धमकियों से नहीं डरती, बस्तर नहीं छोड़ूंगी, यहीं रहूंगी : बेला भाटिया
मोदी की डिग्री मामले में डीयू के रिकॉर्ड खंगालने पर रोक
बीएसएनएल (BSNL) के नए ग्राहकों के लिए खुशखबरी : 149 रुपए में 30 मिनट प्रतिदिन मुफ्त कॉल!
उत्तरी दिल्ली में सड़क पर एक महिला का लाश मिली, पुलिस जांच में जुटी
थलसेना प्रमुख बिपिन रावत ने कश्मीर का दौरा किया
यूपी चुनाव 2017 : प्रियंका गांधी वाड्रा के लिए अहम रोल चाहते हैं कार्यकर्ता : कांग्रेस
गोवा: महिला ने लगाया बीजेपी मंत्री पर उत्पीड़न का आरोप, मामला दर्ज
एम्स का डॉक्टर बन लोगों को ठगता था व्यक्ति, पुलिस ने लिया हिरासत में
 सामुदायिक रेडियो स्टेशन राजनीतिक कार्यक्रमों का प्रसारण नहीं कर सकते: I&B मंत्रालय
पंजाब चुनाव: अकाली दल आज जारी करेगा घोषणापत्र,  गरीबों को 25 रु किलो घी देने का वादा
एक और खुशखबरी की तैयारी : पेट्रोल पंपों पर कार्ड पेमेंट पर यह छूट 31 मार्च के बाद भी जारी रख सकता है (RBI)
भारत को तत्काल समान नागरिक कानून की जरूरत: तस्लीमा
‘बजट में न हो चुनावी राज्यों से जुड़ी योजना का एलान’
भारत की पहली मस्जिद- चेरामन जुमा मस्जिद – मेथला,केरल

629ईस्वी में केरल के मेथला में बनी चेरामन जुमा मस्जिद को भारत में बनी पहली मस्जिद माना जाता है। प्राचीन काल से ही अरब व्यापारियों का भारत के मालाबार तट पर व्यापारिक कारणों से आना जाना शरू हो गया था। मालाबार तट, जिस पर केरल बसा हुआ है, भारत और दक्षिणपूर्व एशिया के बीच एक प्रमुख व्यापारिक केंद्र हुआ करता था। जब पैगम्बर मोहम्मद अरब में इस्लाम का विस्तार कर रहे थे, उसी वक़्त अरब व्यापारियों के द्वारा भी दुनिया भर में इस्लाम का सन्देश फैलाया जा रहा था ।

केरल में चेरा राज्य के शासक चेरामन पेरूमल भी अरब व्यापारियों के संपर्क में आए और उन्होंने इस्लाम को जानने में रूचि दिखायी। इसी भावना के साथ चेरामन पेरूमल ने अरब यात्रा की और पैगम्बर मोहम्मद से मुलाकात की। पैगम्बर मोहम्मद से मुलाकात के बाद चेरा राज्य के शासक ने इस्लाम धर्म को अपना लिया लेकिन अरब से वापसी के वक़्त रास्ते में ही उनकी मृत्यु हो गयी। चेरामन पेरूमल को सल्लाह,ओमान में दफनाया गया, उन्होंने अपने साथ यात्रा कर रहे अरब व्यापारी मलिक बिन दीनार के हाथो अपने रिश्तेदारों को संदेश भिजवाया कि वो चेरा राज्य में एक मस्जिद का निर्माण कराये और इस्लाम की शिक्षा के प्रसार में सहयोग दे। मेथला में जहाँ ये मस्जिद बनायीं गयी है, उसका नाम चेरामन पेरुमन और मलिक बिन दीनार के नाम पर चेरामन मलिक नगर रखा गया और मस्जिद का नाम चेरामन जुमा मस्जिद रखा गया।

चेरामन जुमा मस्जिद का नवीनीकरण कई बार किया जा चुका है लेकिन इसके मुख्य दरबार को संरक्षित रखा गया है। इस मस्जिद में जलने वाले “दिये” को एक हज़ार साल से भी ज्यादा पुराना बताया जाता है । मुस्लिम और गैर मुस्लिम धर्म के सभी लोग यहाँ आ कर इस “दिये” के लिए तेल दान करते है।

चेरामन जुमा मस्जिद भारत और इस्लाम के प्राचीन सम्बंध को स्थापित करती है और इस बात की गवाह है कि भारत में इस्लाम पैगम्बर मोहम्मद के समय ही अपनी उपस्तिथि दर्ज करा चुका था ।

प्रतिक्रिया दीजिए